कंपनी प्रोफाइल

सिद्धांत। तकनीक। टीमवर्क।

Cockpit4u एविएशन सर्विस GmbH में अपनी टाइप रेटिंग या एम.सी.सी. पाठ्यक्रम को पूरा कर लेने का अर्थ अन्य सभी चीज़ों से बढ़कर यह है : शुरू से ही पेशेवर ढंग से उड़ान भरना। एक टीम में अन्‍य प्रशिक्षुओं के साथ, आप उन प्रशिक्षकों के साथ मिलकर काम करेंगे जो दैनिक रूप में स्वयं उड़ान भरने की चुनौतियों का सामना करते हैं। टाइप रेटिंग प्रशिक्षण देने वाले ये अनुभवी पायलट अपनी विशेषज्ञता आपको प्रदान करेंगे और आपको एक भावी पायलट के रूप में तैयार करेंगे।

अपने कैरियर की शुरुआत करने वाले और पेशेवर पायलट दोनों का समान रूप से स्वागत है : हमारी कैम्पस प्रणाली आपको सेवा प्रदान करती है। एकसाथ, हम एक टीम हैं!

हमारा मुख्‍यालय बर्लिन में हैं, लेकिन आप हमारे साथ लंदन और सिंगापुर में भी प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं। यूरोप, एशिया और मध्य-पूर्व में हमारे छद्म-अनुकरणकारी उड़ान केंद्र (फ्लाइट सिमुलेटर सेंटर्स) हैं।


आप ऑनलाइन जाकर निम्न वेब पते पर ओ.पी.एस. और हमारे द्वारा पेश किए जाने वाले अतिरिक्त प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के बारे में, जैसे कि खतरनाक वस्तुएं, अग्निशमन, सुरक्षा और निम्न दृश्यता संबंधी प्रशिक्षण पर, अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं :www.cockpit4u.com

हमारा प्रशिक्षण कार्यक्रम :

वर्तमान में हम आपको तीन सबसे बड़े विनिर्माताओं के लिए टाइप रेटिंग प्रशिक्षण प्रदान करते हैं: एअरबस, बोइंग और बॉम्बार्डियर

  • टी.आर. एअरबस : A300 / A310 / A 320 / A330 / A340 / A380
  • टी.आर. बोइंग : B737 / B747-400 / B777 / बोइंग हेतु CCQ प्रशिक्षण
  • टी.आर. बॉम्बार्डियर : CRJ 100-900 / चैलेंजर 850

साथ ही हम सी.सी.क्‍यू (क्रॉस क्रू क्वालिफिकेशन) प्रशिक्षण पाठ्यक्रम भी प्रदान करते हैं, जो आपको कम समय-अवधि में अधिक टाइप रेटिंग्स पाने में सक्षम बनाते हैं।

अपना कैरियर शुरू करने वाले लोग हमारे साथ एक A320 और एक B737NG पर अपने एम.सी.सी. पाठ्यक्रम का आरंभ कर सकते हैं, जो बाद में जरूरी टाइप रेटिंग के लिए एक उत्तम तैयारी होती है।

एक और बात : हम टाइप रेटिंग्‍स के विषय पर जानकारी प्रदान करने वाली शामों का आयोजन भी करते हैं, जहां आप यह सीख सकते हैं कि किस पर विशेष ध्यान देना है और वर्तमान में बाजार कैसे विकसित हो रहा है - और आप अपने फायदे के लिए इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं!

आप कब शुरू कर सकते हैं?
जैसे ही आप ए.टी.पी.एल. प्रशिक्षण पूरा कर लें।